top of page
Search
  • alpayuexpress

कार्तिक पूर्णिमा के दिन साधु संतों ने लिया संकल्प!...अबकी चले मथुरा कान्हा के द्वार

कार्तिक पूर्णिमा के दिन साधु संतों ने लिया संकल्प!...अबकी चले मथुरा कान्हा के द्वार


मोहम्मद इसरार पत्रकार उप संपादक


खानपुर : खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर गोमती नदी के सुरम्य तट पर गौरी गांव के पर्णकुटी पर कार्तिक पूर्णिमा के दिन सैकडों की संख्या में जुटे साधु संतों ने काशी अयोध्या के बाद मथुरा की कूच करने का संकल्प दोहराया। पर्णकुटी के महंत अरुण दास जी महाराज के हाथों भक्तों द्वारा समर्पित पांच सौ पचास किलो का पीतल घण्टा लगाया गया। पर्णकुटी के हनुमान मंदिर में एक महीने तक चले श्रीराम चरित मानस पाठ के समापन पर दिव्य हवन किया गया। कुटी के भक्त अजय सिंह एवं मनोज सिंह के द्वारा पांच सौ साधुओं को कंबल दान किया गया। सूरदास जी ने कहा कि काशी अयोध्या और मथुरा सहित देश के सभी देवालयों का कायाकल्प और पुनरुद्धार हो रहा है। जिससे देशवासियों में सनातन धर्म एवं शिक्षा संस्कृति के प्रति लगाव बढ़ रहा है। कुछ समाज विरोधी लोग सनातन संस्कृति को नीचा दिखाने के लिए अनर्गल प्रलाप कर रहे है। सदियों से सनातन को समाप्त करने की कुत्सित प्रयास किया जा रहा है। सत्य सनातन अनादिकाल से अनंत काल तक रहेगी।

4 views0 comments

Commenti


bottom of page