top of page
Search
  • alpayuexpress

कजरी सुनकर मंत्रमुग्ध हुए श्रोता!...स्कूल आफ फाइन आर्ट्स घमापुर गंगापुर में हुआ आयोजन

कजरी सुनकर मंत्रमुग्ध हुए श्रोता!...स्कूल आफ फाइन आर्ट्स घमापुर गंगापुर में हुआ आयोजन


मयंक कश्यप पत्रकार


वाराणसी:- राजातालाब यहां गंगापुर स्थित इंस्टीट्यूट आफ फाइन आर्ट्स में शनिवार को कजरी महोत्सव का आयोजन किया गया। श्रोता कजरी सुनकर मंत्रमुग्ध हुए। यहां कजरी प्रस्तुत कर रही शैलबाला सरकार ने एक से बढ़कर एक कजरी प्रस्तुत की।उनके द्वारा प्रस्तुत की गई कजली कैसे खेले जा सावन में कजरिया की काफी सराहना हुई।इस दौरान उनके साथ तबले पर पंडित पूरण महाराज और ज्ञानेंद्र मिश्र ने संगत किया। इस दौरान कजली महोत्सव कार्यक्रम में शुभांगी सिंह ,पं रविशंकर मिश्रा ने कथक नृत्य प्रस्तुत किया।कजली महोत्सव का प्रारंभ आकाशवाणी वाराणसी के निदेशक राजेश गौतम ने किया।

इस अवसर पर उन्होंने कहा कि भारत की संस्कृति काफी समृद्ध है। लोक संस्कृति भी विविधता और रोचकता से परिपूर्ण है। इसके द्वारा लोगों का स्वस्थ मनोरंजन होता है।जनमानस में सुंदर भाव भी पैदा करती है।उद्घाटन समारोह में आराजी लाइन के खंड शिक्षा अधिकारी शशिकांत श्रीवास्तव ने भी विचार व्यक्त किए। अतिथियों का स्वागत इंस्टीट्यूट आफ फाइन आर्ट्स के निदेशक डॉ अवधेश ने किया जबकि धन्यवाद ज्ञापन उपनिदेशक डॉ अनिल सिंह ने किया। इस दौरान भारी संख्या में कजरी के रसिक श्रोता उपस्थित रहे। कार्यक्रम में उत्तर प्रदेश लोक एवं जनजाति संस्कृति संस्थान संस्कार भारती विश्वविद्यालय इकाई वाराणसी की उपस्थिति रही।

2 views0 comments

Comments


bottom of page