Search
  • alpayuexpress

उतर प्रदेश में तेजी से बढ़ा मरीज और मौत का आंकड़ा



(कृष्णा चौहान की रिपोर्ट)


मई सोमवार 18-5-2020


उतर प्रदेश में तेजी से बढ़ा मरीज और मौत का आंकड़ा


*लखनऊ।* यूपी में कोरोना वायरस से संक्रमित मरीजों की संख्या और इससे मरने वालों का आंकड़ा दोनों ही तेजी से बढ़ता जा रहा है। हालांकि इस बीमा से ठीक होने वालों की संख्या भी औसत से ज्यादा है। बावजूद इसके अधिकारी इस बात को लेकर परेशान है कि जिन शहरों में संक्रमण तेजी से फैल रहा है उसे कैसे रोका जाए। यही कारण है कि मेरठ में सप्ताह में दो दिन पूरी तरह से लॉकडाउन का निर्णय लिया गया है। आगरा में स्थिति ज्यादा खराब होती जा रही है। यहां संक्रमितों की संख्या 800 से ज्यादा हो गई है।

प्रदेश में 16 मई को अब तक सबसे अधिक मरीज मिले हैं। शनिवार को आई कोरोना वायरस की रिपोर्ट के अनुसार 203 मरीजों में वायरस मिलने की पुष्टि हुई है शनिवार को नौ कोरोना मरीजों ने दम तोड़ दिया। प्रदेश में अब तक 104 मौतें हो चुकी हैं। मेरठ में कोरोना का कोहराम चरम पर है। शनिवार को आगरा के एक और मेरठ के दो मरीजों ने मेडिकल कालेज में उपचार के दौरान दम तोड़ दिया। इनमें शामिल एक महिला मरीज की मौत के बाद रिपोर्ट कोरोना पॉजिटिव आई। वहीं अन्य दो पहले से संक्रमित थे। मेरठ में कोरोना से मौत का आंकड़ा 19 हो गया है। वहीं, एक पुलिसकर्मी, एक आशा कार्यकत्री सहित आठ लोगों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। इस तरह मेरठ में कुल संक्रमितों की संख्या 320 हो गई है। उधर, सहारनपुर में मध्य प्रदेश से आए 10 प्रवासियों की रिपोर्ट पॉजिटिव आई है। सहारनपुर में अब कोरोना पॉजिटिव की कुल संख्या 203 हो गई है। कोरोना संक्रमण को लेकर केंद्र सरकार ने मेरठ के प्रशासन और स्वास्थ्य विभाग को आगाह किया है। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव प्रीति सूदन ने मेरठ सहित देश के 30 से अधिक महानगरों में कोरोना वायरस की स्थिति को लेकर चिंता जताई। उन्होंने मेरठ को लेकर कहा कि मेरठ की स्थिति चिंताजनक है। यदि सख्त कार्रवाई अमल में नहीं लाई गई तो 15 दिनों में केस दोगुने हो जाएंगे।

1 view0 comments