top of page
Search
  • alpayuexpress

इलाज कराने के नाम पर उतारा मौत के घाट!...पैसा बना जान का दुश्मन,देवर पर लगा भाभी की निर्मम हत्या का

इलाज कराने के नाम पर उतारा मौत के घाट!...पैसा बना जान का दुश्मन,देवर पर लगा भाभी की निर्मम हत्या का आरोप


आदित्य कुमार सीनियर क्राइम रिपोर्टर


गाजीपुर:- खबर गाजीपुर जिले के थाना शादियाबाद से है जहां पर हैवानियत की सारी हदें उस समय पार हो गई जब कटघरा में एक महिला का शव दोनों हाथ पीछे से बंधा , सिर कुचा हुआ दिखाई दिया तो लोगों के होश उड़ गए इसी बात की पूरे क्षेत्र में चर्चा होने लगी की इस तरह से निर्मम हत्या किसके द्वारा की गई जैसे ही इस घटना की जानकारी थाना शादियाबाद प्रभारी सत्येंद्र कुमार राय को हुई तो तत्काल मौके पर पहुंचे जांच पड़ताल में जुट गए ।

पता चला कि युवती थाना शादियाबाद के अंतर्गत मुबारकपुर ऊंचौरी निवासी जगदीश राम की पुत्री अनुप्रिया कुमारी है, जिसकी शादी पिछले वर्ष थाना नंदगंज अंतर्गत किशोरी गांव के निवासी विनोद कुमार पुत्र स्वर्गीय बालचंद राम के घर हुई थी, अनुप्रिया अपने मायके में रहती थी इस घटना से एक दिन पूर्व मृतका की मां ने थाना शादियाबाद में गुमशुदगी की रिपोर्ट दर्ज कराई थी।

जिसने बताया कि बीते दिनांक 21 तारीख को लगभग 4:00 बजे उसका देवर अभिषेक उसको इलाज कराने के लिए घर ले गया था ।जब अभिषेक से लड़की की मां ने पूछा कि अनुप्रिया कहां है तो उसने बताया कि मैंने उसको घर छोड़ दिया जब वह घर पर नहीं आई तो मां घबराने लगी की अभी तक कहां रह गई नहीं आई उसका फोन भी बंद जा रहा था मृतका की मां ने बताया कि पहले से ही लड़की से आए दिन लड़के की मां , देवर और ननद विवाद करते थे।

उन्होंने बताया कि लड़की के पति मृतक आश्रित में अपने पिता की नौकरी करते हैं। पैसे को लेकर लड़के की मां और देवर आए दिन उसे प्रताड़ित करते थे कि सारा पैसा मुझे दो नहीं तो तुम्हें जान से मार देंगे पति के मिलने वाली तनख्वाह को लेकर के उनके मन में लालच हो गया मेरी बेटी की हत्या कर दी जिसके पेट में बच्चा पल रहा था।थाना शादियाबाद प्रभारी सत्येंद्र कुमार राय ने बताया कि घटना के संबंध में तहरीर मिली है जांच कर दोषियों के विरुद्ध उचित कार्रवाई की जाएगी।

177 views0 comments

Comments


bottom of page