Search
  • alpayuexpress

इटावा में सिपाही के अमानवीय कृत्य से पुलिस शर्मसार, एसएसपी ने किया निलंबित



( किरण नाई ,वरिष्ठ पत्रकार -अल्पायु एक्सप्रेस-Alpayu Express)


मई सोमवार 4-5-2020


इटावा में सिपाही के अमानवीय कृत्य से पुलिस शर्मसार, एसएसपी ने किया निलंबित


बलरई थाना के एक कांस्टेबल के अमानवीय कृत्य से पुलिस महकमा शर्मसार हो गया। सोशल मीडिया पर उसकी हरकत का वीडियो वायरल होने के बाद एसएसपी ने घटना का संज्ञान लिया और तुरंत कार्रवाई करते हुए उसे निलंबित कर दिया है।वायरल वीडियो में बलराई थाने में तैनात कांस्टेबल सुभाष चौधरी एक गांव में युवक की बेरहमी से डंडे से पिटाई करते नजर आ रहे है। युवक बार बार छोड़ने की दुहाई दे रहा है लेकिन उनपर कोई असर नहीं हो रहा है। पीटते-पीटते युवक जमीन पर गिर गया है और कांस्टेबल उसकी छाती पर जूते रखकर जोर से मसल रहे हैं। सोशल मीडिया पर वीडियो वायरल होने के बाद सिपाही के अमानवीय कृत्य ने सभी को झकझोर दिया। इस घटना का संज्ञान एसएसपी आकाश तोमर ने लिया और मामले की जांच भी कराई।ग्रामीणों ने बताया कि ग्राम बीबामऊ का रहने वाले रणवीर सिंह यादव का बेटा सुनील उर्फ पंडित मानसिक रूप से कमजोर है। वह गांव में घूमता रहता है। शनिवार को गांव में आए कांस्टेबल सुभाष चौधरी को उसने कुछ कह दिया। इसपर भड़के कांस्टेबल ने उसपर डंडे बरसाने शुरू कर दिये और वह चीखता रहा। यह अमानवीय कृत्य काफी देर तक चलता रहा, जमीन पर गिरे सुनील को सिपाही ने पैरों के नीचे रौंदा भी।इसके बाद अपना दामन बचाने के लिए पुलिस ने उसे चाकू रखने का केस दर्ज करके जेल भेज दिया। घटना का वीडियो किसी ने सोशल मीडिया पर वायरल कर दिया। अब पुलिस मामले में लीलापोती कर रही है। गांव के वरिष्ठ फौजदारी अधिवक्ता उमेशचंद्र दुबे ने घटना को निंदनीय बताया है।एसएसपी आकाश तोमर ने बताया कि 30 अप्रैल को पुलिस को सूचना मिली थी कि गांव में एक युवक बांका, फरसा व छुरी लेकर गांव वालों से अभद्रता कर रहा है। इस पर कांस्टेबल सुभाष व विनोद कुमार शुक्ला को भेजा गया था, जिन्होंने उसे पकड़ने का प्रयास किया। युवक ने फरसे से कांस्टेबल पर हलमा कर दिया था। घटना का वीडियो वायरल होने के बाद सीओ जसवंतनगर उत्तम चंद ने मामले की जांच की थी। इसके बाद कांस्टेबल सुभाष चौधरी को दोषी मानते हुए निलंबित कर दिया गया है।

0 views0 comments