top of page
Search
  • alpayuexpress

आखिर क्यों ?पक्के मकान को छोड़कर मड़ई में रहने को विवश है विवाहहिता

आखिर क्यों ?पक्के मकान को छोड़कर मड़ई में रहने को विवश है विवाहहिता


अमित उपाध्याय पत्रकार


गाजीपुर। ऐसा कहा जाता है कि शादी के सात फेरे लेते वक्त सात जन्मो तक साथ निभाने का वादा कर सात वचन लेते हैं लेकिन यह सात वचन और सात जन्म तक साथ निभाने का वादा कुछ लोग कब भूल जाते यह किसी को नहीं पता हैं ।

ऐसा ही एक मामला गाजीपुर के करंडा ब्लॉक के मैनपुर गांव का है , जहां पर एक विवाहिता को उसके पति के साथ ही ससुराल वालों ने घर से निकाल दिया है जिसके बाद विवाहिता भूसा और उपला रखने वाले रूम में किसी तरह से अपना जीवन यापन कर रही है। यहां तक कि उसने इसके लिए अपने थाने पर भी शिकायत किया लेकिन पुलिस के द्वारा भी अभी तक महिला के रहने के सिलसिले में कोई कार्रवाई नहीं की गई है ।

विवाहिता लगभग पिछले 25 दिनों से भूसे वाले घर में रहने को मजबूर है उसका आरोप है कि उनके पति का अपने ही किसी से अवैध संबंध है जिसके चलते उनके पति और परिवार के लोग उसे घर से निकाल रहे है ।

बता दे कि गाजीपुर के मैनपुर गांव में विवाहित सोनी जिसकी शादी 2019 में हुई थी और मात्र कुछ ही दिनों तक परिवार में सब कुछ ठीक – ठाक चला वहीं पिछले साल सोनी अपने मायके चंदौली चली गई और फिर पिछले दिलों सास की मौत की जानकारी होने पर जब वह अपने ससुराल पहुंची तो ससुराल के लोगों ने उसे घर में नहीं घुसने दिया तब मामला थाने तक पहुंचा लेकिन इस दौरान सोनी को गांव के लोगों की पहल पर घर के बाहर भूसा और उपला रखने वाले मडई में किसी तरह रहने दिया गया , जबकि पूरा परिवार एक साथ पक्के मकान में रहता है ।

इतना ही नहीं उसे ससुराल छोड़कर जाने के लिए आए दिन उसके साथ मारपीट भी किया जाता है जिस से आहत होकर सोनी ने पुलिस अधीक्षक से न्याय की गुहार लगाई और उसका आरोप है कि उसके पति का अपने ही किसी के साथ अवैध संबंध है जिसके कारण वह उसके साथ नहीं रहना चाहते हैं जबकि वही पीड़िता सोनी का कहना है कि चाहे तो उनके पति और भी अपनी शादी कर ले लेकिन हमको भी अपने साथ ही रहने दे ।

वही जब इस मामले पर अपर पुलिस अधीक्षक ज्ञानेंद्र प्रसाद से बात की गई तो उन्होंने बताया कि इनका मामला आया है और इसे महिला प्रकोष्ठ में भेजा गया है दोनों पक्षों की तरफ से आरोप लगाया गया है जिसकी जांच के बाद उचित कार्रवाई की जाएगी।

3 views0 comments

Komentáře


bottom of page