Search
  • alpayuexpress

अब्बास अंसारी और उमर अंसारी को मऊ की कोर्ट से मिली जमानत!...मुख्तार अंसारी के बेटों को मिली बड़ी राहत

मऊ/उत्तर प्रदेश


अब्बास अंसारी और उमर अंसारी को मऊ की कोर्ट से मिली जमानत!...मुख्तार अंसारी के बेटों को मिली बड़ी राहत


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


मऊ। उत्तर प्रदेश के बाहुबली विधायक मुख्तार अंसारी के बड़े बेटे और मऊ सदर सीट से सुहेलदेव भारतीय समाज पार्टी के विधायक अब्बास अंसारी और उनके छोटे भाई उमर अंसारी को मऊ की कोर्ट से जमानत मिल गई है. 2022 के विधानसभा चुनाव के दौरान बिना परमिशन के जुलूस निकालने और भीड़ इकट्ठा करने को लेकर आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में उनके खिलाफ मुकदम दर्ज किया गया था. इस मामले में मऊ की एमपी-एमएलए कोर्ट की जज श्वेता चौधरी ने दोनों भाइयों को जमानत दी है.

आचार संहिता के उल्लंघन के मामले में यह मुकदमा चुनाव के समय मऊ शहर कोतवाली में अब्बास अंसारी और उसके छोटे भाई समेत अन्य लोगों के खिलाफ दर्ज किया था. अब्बास अंसारी के कोर्ट रूम में मौजूद रहने के दौरान कचहरी परिसर के अंदर बड़ी संख्या में पुलिस बल की तैनात की गई थी. अब न्याय मिल गया है- अब्बास जमानत मिलने के बाद कोर्ट से बाहर निकले विधायक अब्बास अंसारी ने कहा कि जमानती धाराओं में वारंट था. उसी के लिए कोर्ट के समक्ष प्रस्तुत हुए थे और अब न्याय मिल गया है. अब वापस अपने क्षेत्र में अवाम के बीच में जा रहे हैं. चुनाव में आचार संहिता के उल्लंघन का मामला था.

उन्होंने कहा, 'इस मामले में मैं, मेरा भाई और चाचा आरोपी थे. बाकी सभी की जमानत हो चुकी थी. हम लोगों की जमानत बची थी, आज हमें भी जमानत मिल गई.' सैफई जाकर अखिलेश यादव से मुलाकात करने के सवाल पर कहा कि हर जगह राजनीति मत ढूंढिए. मुलायम सिंह यादव के नहीं रहने पर राजनीतिक विरासत के सवाल पर अब्बास अंसारी ने कहा कि इस पर मैं कैसे टिप्पणी कर सकता हूं. इसके लिए मैं अधिकृत नहीं हूं. आने वाले समय में क्या आप सपा में जा रहे हैं, इस सवाल के जवाब पर उन्होंने कहा कि यह आप ही बता सकते हैं. यह मीडिया का काम है.

2 views0 comments