top of page
Search
  • alpayuexpress

अजब-गजब: सफाईकर्मी के स्थान पर दूसरा प्राईवेट व्यक्ति कर रहा है कार्य,ग्राम प्रधान ने किया पर्दाफाश

अजब-गजब: सफाईकर्मी के स्थान पर दूसरा प्राईवेट व्यक्ति कर रहा है कार्य,ग्राम प्रधान ने किया पर्दाफाश


⭕बिना कार्रवाई रजिस्टर के ही सफाईकर्मियों के पेरोल पर हो जाता है हस्ताक्षर,एक महीने से बायोमैट्रिक मशीन पड़ी है खराब


अमित उपाध्याय पत्रकार


गाजीपुर। खबर गाजीपुर जिले से है जहां पर प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के महत्वकांक्षी योजना स्वच्छ भारत मिशन जिसका उद्देश्य पूरे देश को स्वच्छ व साफ-सूथरा बनाना है।

जिसको लेकर प्रधानमंत्री के निर्देश पर देश के हर राज्य में इस योजना को सफल बनाने के लिए विभिन्न तरह के जागरूकता कार्यक्रमों की शुरुआत की गई,तथा संबंधित अधिकारियों तथा कर्मचारियों को आवश्यक निर्देश दिए गए।

लेकिन शासन के निर्देशों का असर कुछ सफाई कर्मचारियों पर नहीं हो रहा है। कुछ सफाईकर्मियों के लापरवाही से स्वच्छ भारत मिशन की योजना पूरी तरह सफल नहीं हो पा रही है।

जिसका जीता जागता उदाहरण जमानिया विकास अंतर्गत महली ग्राम सभा का हैं जहां सफाईकर्मियो का पर्दाफाश करते हुए ग्राम प्रधान रोशन राम ने बताया कि सफाईकर्मी अपने स्थान पर प्राईवेट व्यक्तियों से कार्य कराते हैं।

शनिवार को करीब ग्यारह बजे पहुंची मीडिया की टीम को ग्राम प्रधान ने सफाईकर्मियों पर गंभीर आरोप लगाते हुए बताया कि मेरे ग्राम सभा में तीन सफाईकर्मी तैनात हैं लेकिन आज एक सफाईकर्मी दीपक कुमार ग्राम सभा में आये है बाकी दो सफाईकर्मी उमेश कुमार रावत व इरफान खां बिना बताये आज ग्राम सभा में नहीं आये है।

ग्राम प्रधान आ गंभीर आरोप है कि सफाईकर्मी अपने जगह पर किसी प्राइवेट व्यक्ति को रखकर ग्राम सभा की साफ-सफाई करवाते हैं।

इन लोगों की बायोमैट्रिक मशीन करीब एक माह से खराब है। बिना कार्रवाई रजिस्टर के ही सफाईकर्मियों के पेरोल पर हस्ताक्षर हो जाता है।

इस संबंध में जिला पंचायत राज अधिकारी (D.P.R.O) आंशूल मौर्य ने बताया कि आपके द्वारा मामला संज्ञान में लाया गया है जांच कराकर दोषियों के ऊपर सख्त से सख्त कार्रवाई की जाएगी।

1 view0 comments

Comments


bottom of page