top of page
Search
  • alpayuexpress

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर!...महिला विशेष हिंदी कार्यशाला का हुआ आयोजन

अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर!...महिला विशेष हिंदी कार्यशाला का हुआ आयोजन


किरण नाई वरिष्ठ पत्रकार


गाजीपुर:- खबर गाज़ीपुर ज़िले से है जहां पर अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस के अवसर पर यूनियन बैंक ऑफ इंडिया के क्षेत्रीय कार्यालय में महिला विशेष हिंदी कार्यशाला का आयोजन किया गया। पूरे समारोह का संचालन अनुराग कुमार सिंह, राजभाषा अधिकारी एवं कीर्ति, सहायक प्रबंधक (मानव संसाधन) ने किया। अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस समारोह तथा महिला विशेष हिंदी कार्यशाला के मुख्य अतिथि जिलाधिकारी आर्यका अखौरी की अध्यक्षता में सभी महिलाओं के साथ केंक काटकार कार्यक्रम का शुभारम्भ किया गया। उन्होने अपने संबोधन में उपस्थित महिलाओं को बधाई देते हुए कहा कि वर्तमान परिप्रेक्ष्य में राष्ट्र निर्माण तथा विकास के हर क्षेत्र में महिलाओं का अहम योगदान रहा है। महिलाएं हमारे समाज की मुख्य स्तंभ है। इनके सशक्तिकरण के दिशा में हर संभव प्रयास किए जाने की जरुरत है। यूनियन बैंक महिलाओं के विकास तथा इनके सशक्तिकरण में सदैव अग्रणी रहा है। सरकार की योजनाओं के माध्यम से महिला उद्यमियों, ग्राहकों को उचित सहायता प्रदान कर उनको आगे लाने के सफल प्रयास किए जा रहे हैं साथ ही उन्होंने यह भी कहा कि हिंदी हमारी राजभाषा है एवं यह तो उत्तर प्रदेश की मातृभाषा भी है। हिंदी अपनी स्पष्टता तथा वैज्ञानिकता के कारण आज पूरे विश्व में अपनी पहचान बना रही है। आज पूरे देश ही नहीं विश्व में राजभाषा हिंदी का प्रयोग बहुत ही विस्तृत रुप से की जा रही है। हमें चाहिए कि हिन्दी को राजभाषा के रुप में पूरे देश में प्रभावी ढंग से लागू किया जाए. हिन्दी सदियों से भारत के लोगों की अभिव्यक्ति की भाषा रही है. आने वाले समय में इसकी भूमिका और अधिक महत्वपूर्ण होने वाली है।

क्षेत्र प्रमुख कुमार दीप्तिमान गुप्ता ने कहा कि यूनियन बैंक में हिंदी के माध्यम से ही अधिकांश बैंकिंग कार्य किए जाते हैं, हमारा प्रयास रहा है कि ग्राहकों को बैंकिंग सुविधाएं उन्हीं की भाषा में प्रदान की जाए, इसके लिए हमारा बैंक सदैव प्रयासरत है. वर्तमान युग में महिलाएं हर क्षेत्र में बेहतर से बेहतर परिणाम दे रही है, आने वाला समय महिलाओं का ही है, जो आज महिलाएं लड़ाकू विमान से लेकर अंतरीक्ष तक अपनी पहुंच बना रही है। हम लोगों को चाहिए कि हम लड़कियों को शिक्षित करते हुए उन्हें अवसर प्रदान करें ताकि वे समाज का नेतृत्व कर सके। जिलाधिकारी द्वारा कार्यक्रम में राजभाषा दर्पण बुक का अवलोकन भी किया गया। कार्यशाला के उपरांत एक ऑनलाइन प्रश्नोत्तरी का आयोजन भी किया गया। उतकृष्ट 03 कर्मचारी को पुरस्कृत कर सभी को सम्मानित भी किया गया। कार्यशाला के समापन के अवसर पर उप क्षेत्र प्रमुख सुनील कुमार एवं आशीष कुमार क्षेत्रीय कार्यालय, गाजीपुर ने सभी उपस्थित महिला स्टाफ सदस्यों को अंतर्राष्ट्रीय महिला दिवस की बधाई दी तथा अपने संबोधन में कहा कि आज के इस महिला विशेष कार्यशाला में जो भी उन्होंने सीखा है, उसे अपने दैनिक कार्यों में भी प्रयोग में लाना है। समापन के पश्चात प्रतिभागियों ने इसे अत्याधिक लाभप्रद एवं उपयोगी बताया।

3 views0 comments

תגובות


bottom of page